Sun rahi ho na – Shayari ki Dukan


26 Dec Sun rahi ho na

सुनो मैं आ रहा हूं
सुन रही हो ना

सुनो मैं सोच रहा था कि
एक गुलाब का फूल ले आऊं
सुन रही हो ना

सुनो उम्र का जिक्र
भूल कर भी
आज ना करना
सुन रही हो ना

सुनो मेरे होठों पे
तुम्हारा नाम जो आए
रोक ना देना
सुन रही हो ना

सुनो एक बार फिर
सिर्फ एक बार
कह दो ना कि
प्यार है मुझसे
सुन रही हो ना



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *